Whatsapp Pay Launch

WhatsApp Pay को मिली सरकार से मंजूरी, जल्द हो सकता है Launch!

Whatsapp pay

WhatsApp Pay सेवा का इस्तेमाल यूज़र्स ऐप के अंदर से ही कर सकते हैं। इसमें यूज़र्स ऐप के अंदर से यूपीआई के जरिए पैसों का लेन-देन कर सकेंगे। पूरी तरह से जारी होने के बाद Whatsapp पे भारत की सबसे बड़ी मोबाइल पेमेंट सेवा में से एक बन जाएगी।

WhatsApp Pay सेवा अभी तक भारत में कुछ चुनिंदा यूज़र्स के लिए टेस्टिंग फेज़ में उपलब्ध थी। अब इंस्टेंट मैसेजिंग ऐप को भारत में नेशनल पेमेंट कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया (NPCI) द्वारा लाइसेंस दे दिया गया है। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, अब कंपनी चरणबद्ध तरीके से भारत में सभी यूज़र्स के लिए व्हाट्ऐप पे सेवा जारी कर सकती है। इस पेमेंट सेवा के जरिए यूज़र्स ऐप के अंदर से ही भारत सरकार की युनिफाइड पेमेंट इंटरफेस (UPI) का इस्तेमाल कर डिजिटल लेन-देन कर सकते हैं। फेसबुक के स्वामित्व वाली इंस्टेंट मैसेजिंग ऐप WhatsApp ने 2018 में इस पेमेंट सेवा को बीटा टेस्टिंग के रूप में लगभग 10 लाख यूज़र्स के लिए जारी किया था, लेकिन नियामक की मंज़ूरी में देरी के चलते सेवा को सभी यूज़र्स तक नहीं पहुंचाया जा सका।

अब Business Standard की रिपोर्ट के मुताबिक, व्हाट्सऐप पे को भारत में पहले फेज़ के जरिए लगभग 10 लाख यूज़र्स तक पहुंचाया जाएगा। WhatsApp Pay के लिए कंपनी को NPCI का यह लाइसेंस लंबे समय के इंतजार के बाद गुरुवार को मिला था।

बता दें कि व्हाट्सऐप पे सेवा के पूरी तरह से जारी होने के बाद यह भारत की सबसे बड़ी मोबाइल पेमेंट सेवा में से एक बन जाएगी। इसके पीछे Whatsapp का India में बड़े पैमाने पर इस्तेमाल होना है। बता दें कि इस समय भारत में WhatsApp का इस्तेमाल 40 करोड़ से ज्यादा यूज़र्स करते हैं।

कंपनी ने WhatsApp Pay सेवा को टेस्टिंग मोड के तौर पर फरवरी 2018 में लॉन्च किया था। इस मोड को इस्तेमाल करने वाले Users के पास ऐप के अंदर एक ‘Payment’ विकल्प आता है, जिसके जरिए यूज़र्स ऐप के अंदर से ही UPI पर आधारित लेन-देन कर सकते हैं।

पिछले हफ्ते Facebook के CEO मार्क ज़ुकर्बर्ग ने विश्लेषकों को बताया कि Whatsapp Pay को अगले छह महीनों में कई देशों में जारी किया जाएगा। व्हाट्सऐप पे सेवा के जारी होने में विलंभ के पीछे का कारण भारत सरकार और रिज़र्व बैंक ऑफ इंडिया (Reserve B ank of I ndia) को व्हाट्सऐप के कुछ फीचर्स को लेकर होने वाली चिंता को बताया गया है। साइबर विश्लेषकों ने व्हाट्सऐप पे को भारतीय डिजिटल बैंकिंग ईकोसिस्टम के लिए एक खतरा तक बता दिया था। हालांकि अब NPCI द्वारा लाइसेंस मिलने के बाद कंपनी को सभी समस्याओं से छुटकारा मिल गया है और अब भारत में व्हाट्सऐप यूज़र्स जल्द ही अपनी ऐप के जरिए पैसों का लेन-देन कर सकेंगे।

Leave a Comment