Keto Diet to Lose Weight क्या है, जानिए इसका सही तरीका और फायदे

Keto Diet to Lose Weight :Weight Loss करने के लिए आमतौर पर सभी लोग सोचते हैं, जब लोग हेल्थी और फिट रहते है तभी खूब Junk Food खाते हैं , लोग सोचते हैं जब Weight Lose करना होगा तब रनिंग करके वजन कम(Weight Loss) कर लेंगे। हर वो व्यक्ति जिसका वजन बढ़ा हुआ है, जो मोटा है, जिसकी बॉडी में अधिक चर्बी है उन लोगों के मुंह से मैंने अक्सर ये बातें कहते सुना हैं।

जब उनकी आधी अधूरी जानकारी काम नहीं आती, तो फिर वे Diet के पीछे भागते हैं, जल्दबाजी में वजन कम(Weight Lose) करने के लिए कुछ गलतियां कर देते हैं। जैसे-
कुछ लोग पूरी तरह खाना-पीना छोड़ देते हैं और रात में भी भूखे पेट सोने लग जाते हैं।
कुछ लोग इतना वर्कआउट(Workout) और कार्डियो(Cardio) करते हैं, कि वे अपना मसल्स लॉस कर बैठते हैं।
कुछ लोग हमेशा Confused ही रहते हैं कि उन्हें मसल्स बिल्डिंग करना है या Fat Lose
वहीं कुछ लोग Internet से बिना जांच पड़ताल करके अपने लिए कोई भी Diet Follow करने लगते हैं, जो उन्हें लगता है कि वो हेल्दी होगी।
तो दोस्त बताना चाहूंगा कि आपको वजन कम(Weight Lose) करने के लिए सबसे ज्यादा जिस चीज की जरुरत है वो है डाइट(Diet)।

इसलिए जब भी Weight Loss करने वाली Diet का नाम आता है तो उसमें कीटो डाइट(Keto Diet to Lose Weight) का नाम सबसे ऊपर आता है।

इसलिए आज मैं इस Article के माध्यम से आपको Keto Diet Plan के बारे में सारी जानकारी दे रहा हूं, जो आपको जानना जरूरी है। जैसे की कीटो डाइट क्या है (keto diet kya hai) , कीटो डाइट क्या होना चाहिये और इसके फायदे

कीटो डाइट क्या है ? (What Is Keto Diet Plan)

Keto Diet को कीटोजेनिक डाइट, लो-कार्ब डाइट, लो-कार्ब हाई फैट डाइट आदि नाम से भी जानते हैं। नॉर्मल डाइट में प्रोटीन कार्ब हाई होता है, प्रोटीन काफी कम होता है और फैट मीडियम होता है, जिस कारण अधिकतर लोग Unhealthy रहते हैं।

लेकिन वहीं दूसरी ओर कीटो डाइट में सबकुछ उल्टा होता है। इसमें कार्ब की मात्रा सबसे कम, फैट की मात्रा सबसे अधिक और प्रोटीन की मात्रा फैट और कार्ब के बीच होती है।

कीटो डाइट मैक्रो
यदि आप Keto Diet कर रहे हैं, तो आपकी हर मील में Protein, कार्ब और फैट का ये रेश्यो होना चाहिए।

फैट- 70 प्रतिशत
प्रोटीन- 25 प्रतिशत
कार्ब- 5 प्रतिशत
हमारी Body को कार्ब्स से Energy मिलती है ये बिल्कुल सही है। बॉडी में कार्ब्स न होने पर फैट से Energy मिलती है और यदि आपके शरीर में फैट भी नहीं होता, तो आपके मसल्स को बर्न करके आपकी बॉडी आपको Energy देती है।

आप जब ज्यादा कार्ब खाते हैं तो आपकी Body उनको Break करके Glucose में Convert कर देता है। अब सोचिए जब आप ज्यादा कार्ब खाते हैं, तो उनमें से कुछ भाग को तो बॉडी ग्लूकोस में Convert करके किसी काम या शरीरिक एक्टिविटी के द्वारा बर्न कर देती है और बाकी ग्लूकोस आपकी Body Fat के रूप में स्टोर हो जाता है, जिससे आप धीरे-धीरे मोटे हो जाते हैं।

कार्ब को Glucose में Convert करना आपकी बॉडी के लिए सबसे सरल काम होता है। आपको Weight Lose करने के लिए इस ग्लूकोस को कम करना होगा और ग्लूकोस बनता है कार्ब से तो इसका सीधा-सीधा मतलब है आपको कार्ब्स की मात्रा कट करना होगी।

कीटो डाइट में आप जब कार्ब लेना बंद कर देते हैं, तो आपकी बॉडी को आपको Energetic रखने का जो दूसरा जरिया बचता है वो है फैट।

ऐसे में आपके लीवर में Ketons बनने लगते हैं और आपकी बॉडी keto स्टेज में पहुंच जाती है और आपकी बॉडी Secondry Energy Source यानि फैट को बर्न करके आपको एनर्जी देती है, क्योंकि उसे पता होता है कि आप कार्ब्स लेना बंद कर चुके हैं।

आपके शरीर में जमा हुआ फैट आपकी स्टोर्ड एनर्जी है और कीटो स्टेज में आपकी बॉडी आपके उसी स्टोर्ड फैट को बर्न करेगी और ऐसे आपका Fat Lose होगा, Weight lose होगा और धीरे-धीरे आप लीन होने लगेंगे।

उस समय आपको Protein लेना इसलिए जरूरी है, क्योंकि आपकी बॉडी मसल्स को ब्रेक न करे और आप बहुत अधिक लीन न हों।


कीटो डाइट करने से होने वाली समस्याएं

कीटो डाइट में कम Carbohydrates लेने से आपके शरीर में कुछ प्रोब्लम्स आने लगती हैं। जैसे :

1. होल ग्रेन बंद करने से आपकी बॉडी में Fiber की काफी कमी हो जाएगी। इससे आपकी जो बॉल्व मूवमेंट (Flash Out) में Problems आ सकती है। इसके लिए आपको अपनी Diet में इतना Fiber Add करना जरूरी है, कि आप 20-25 ग्राम फाइबर तक पहुंच जाएं।

अब आप सोच रहे होंगे कि फाइबर कैसे एड करेंगे, क्योंकि Meat, Chicken, Egg, Oil आदि में फाइबर नहीं पाया जाता। तो बताना चाहूंगा कि इसके लिए आप अपनी डाइट में हरी सब्जियां(Green Vegetable) एड करें जिनमें काफी अधिक मात्रा में फाइबर पाया जाता है। जैसे – पालक, मेथी, लेट्युस, लौकी, खीरा, पुदीना आदि।

2. ग्रेन्स बंद करने से आपकी Body को काफी सारे Minerals और Vitamins नहीं मिलेंगे, तो आपकी बॉडी में इन सबकी कमी हो जाएगी। इसलिए आपको Multivitamin Tablets को अपनी डाइट में एड करना जरूरी हो जाएगा।

3. तीसरी जिस चीज की कमी होगी, वो है पानी। जब आपकी Body में Carbs की मात्रा कम होगी तो आपकी Body Water को होल्ड नहीं करेगी, क्योंकि आप तो जानते ही होंगे कि एक ग्राम Carbohydrates 3 ग्राम पानी को होल्ड करता है और जब शरीर में कार्ब ही नहीं होगा तो पानी की भी कमी होगी। इसलिए ध्यान रखें कि ऐसे में दिन भर में कम से कम 10 गिलास पानी जरूर पिएं।

Keto diet to Lose Weight शुरू करने के बाद जब आपका Metabolism चेंज होगा, तो आपको कुछ Temporary हेल्दी प्रोब्लम्स भी होंगी, जो कि 5-7 दिन तक ही रहेंगी। जिससे आपको काफी भूख लगेगी, आलस आएगा, थकान होगी आदि। इसके लिए आपको Mentality रूप से तैयार रहना होगा, तो ये काफी अच्छे से काम करेगी।

इस डाइट को 1-3 महीने तक ही Follow करें, इसके बाद फिर अपनी Normal Diet पर आएं और फिर कुछ समय बाद अपने गोल के मुताबिक इस डाइट को फिर से Repeat कर सकते हैं।

कीटो डाइट में क्या खाना चाहिए

कीटो डाइट प्लान (Keto Diet Plan) में आपको सबसे ज्यादा ध्यान खाने का ही रखना होता है, क्योंकि यदि आप बीच में कुछ गलत खा लेते हैं, तो आप Ketosis से बाहर आ सकते हैं। इस डाइट में आपको वो चीजें खानी हैं जिसमें High Fat और Low Carbs हो और Medium Protein हो। जैसे- nuts, seeds, Olive Oil, चिकन, मटन, हरी सब्जियां, बादाम, काजू, मूंगफली, पनीर, क्रीम, बटर, अखरोट, Coconut Oil का सेवन कर सकते हैं।

कीटो डाइट(Keto Diet) में क्या नहीं खाना चाहिए

कीटो डाइट में खाने वाली चीजों की अपेक्षा न खाने वाली चीजों की List ज्यादा लंबी है। इसमें आप फल (सेब, केला, Pineapples, संतरा, मोसम्मी, अंगूर यानि कुछ भी), आलू, ब्रेड, दाल, चने, गेहूं, शुगर, दही, दूध आदि में से कुछ भी नहीं खा सकते। क्योंकि इनमें काफी मात्रा में Carbohydrates पाया जाता है।

कीटो डाइट के फायदे (Benefits of Keto Diet Plan)

कोलेस्ट्रॉल : कीटो डाइट Triglycerides के लेवल में सुधार करता है और Cholesterol के लेवल को भी सुधार सकता है।

वजन कम : आपकी बॉडी शरीर के Stord Fat को बर्न करती है जिससे आपके फैट सेल्स में कमी आती है और आपका वजन कम(Weight Loss) होने लगता है।

ब्ल्ड शुगर : ये डाइट समय के साथ LDL Cholesterol की कमी और Type-2 Diabetes जैसी बीमारियों को खत्म कर सकती है।

एनर्जी : इस डाइट से आपको बेहतर Energy मिलती है। आप इस दौरान अधिक Energetic feel करते हैं और आपको तो पता ही होगा एनर्जी के रूप में फैट कण सबसे अधिक Energy देते हैं।

भूख कम लगना : Keto Diet करने के कुछ समय बाद ही व्यक्ति को कम भूख लगने लगती है।

मुंहासे : यदि आप 12 सप्ताह तक कीटो डाइट करते हैं तो आपके मुंहासे(Pimples) और स्किन में सूजन नहीं आती।

Varun Dhawan, अरशद वारसी, आलिया भट्ट, Arjun Kapoor, सोनाक्षी सिन्हा आदि ने वजन कम करने के लिए Keto Diet का ही सहारा लिया था

तो friend’s अब आप समझ ही गए होंगे, कि वजन कम करने के लिए(Keto Diet to Lose Weight) ये डाइट कितनी अहम है। बस ध्यान रखें कि इसे Follow करने के पहले अपने फिटनेस Trainer या फिर Nutritionist की सलाह जरूर लें।

यदि आप कीटो डाइट प्लान खरीदना चाहते है तो दिए गए लिंक पर क्लिक कर खरीद सकते हैं।

Leave a Comment